कृपया मिस कॉल ना दे..😉😉

This is called reference to the context….🤪🤪🤩🤩
हवा की लहर बनकर..
तू मेरी खिड़की न खट खटा…

मैं बन्द दरवाजे में तूफान
समेटे बैठा हूँ….!!!!

इस कविता में कवि अपनी गर्ल फ्रेंड को संकेत दे रहे है कि वो अपनी पत्नी के साथ बैठे है,
कृपया मिस कॉल ना दे..😉😉

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *